मौका मिला चुदाई का

Antarvasna, desi kahani: मैं और काव्या हर रोज पार्क में मॉर्निंग वॉक के लिए जाया करते हैं काव्या से मेरी शादी को हुए 10 वर्ष हो चुके हैं मैं अपनी शादीशुदा जिंदगी से काफी खुश हूं। एक दिन हम दोनों सुबह पार्क में टहलने के लिए गए हुए थे तो उस दिन हमारे पड़ोस में…


लंड आज भी तडपता है

Antarvasna, desi kahani: यह बात कुछ वर्ष पुरानी है मै उस समय कॉलेज मे था मै ज्यादतर समय दोस्तो को साथ बिताया करता हमारी कॉलोनी मे एक लड़की आती है। मुझे वह लड़की बड़ी पसंद आयी उसकी नशीली आंखे मेरे ऊपर जादू कर गयी मुझे ऐसा लगा मानो मुझे उससे प्यार हो गया। वह हमारे…


आपकी एक दिन की पत्नी

Antarvasna, hindi sex kahani: निकिता ने मुझे कहा कि आकाश मुझे ऑफिस के लिए देर हो रही है तुम नाश्ता कर लेना मैं अभी ऑफिस के लिए निकल रही हूं और यह कहते हुए निकिता चली गई मैंने भी किचन से सैंडविच के दो पीस लिए और साथ में चाय भी ले ली उसके बाद मैं…


गुलाबी चूत में मेरा लंड

Antarvasna, hindi sex story: कॉलेज का मेरा दूसरा दिन था और जब मैं कॉलेज पहुंचा तो उस वक्त काफी ज्यादा बारिश हो रही थी मैं लाइब्रेरी के बाहर खड़ा हो गया क्योंकि बारिश काफी ज्यादा तेज थी इसलिए वहां से मेरे क्लासरूम तक जाना थोड़ा मुश्किल था मैं वहीं खड़ा था। मुझे वहां पर का…


वीर्य वर्षा स्तनों पर

Antarvasna, hindi sex story: पिताजी का ट्रांसफर कुछ समय पहले ही हुआ और अब हम लोग रायपुर आ चुके थे रायपुर बिल्कुल नया था और हम लोग आस पड़ोस में किसी को जानते भी नहीं थे। मेरे कॉलेज की पढ़ाई तो पूरी हो चुकी है और मैं घर पर अकेली ही थी तो मैं बहुत…


गांड से निकलते वीर्य को साफ कर दो

Antarvasna, hindi sex stories: मैंने मोहन और उसके सहकर्मी को रंगे हाथों पकड़ लिया था मेरे दिमाग में अब सिर्फ यही चल रहा था कि क्या मोहन मेरे साथ अपनी जिंदगी को बिता पाएंगे या नहीं मैं इसी कशमकश में थी और कई दिनों तक मोहन और मेरे बीच बात नहीं हुई। इसी बीच मेरे…


मेरी चूत मारने घर पर आ जाना

Antarvasna, kamukta: मेरे गुस्सैल स्वभाव के वजह से मैं ज्यादा दिन तक कहीं पर भी नौकरी नहीं कर पाता था। कुछ दिनों पहले ही मैंने एक कंपनी ज्वाइन की थी लेकिन वहां से भी मुझे नौकरी छोड़नी पड़ी मेरे पापा और मम्मी इस बात से हमेशा ही परेशान रहते। हम लोग एक मध्यमवर्गीय परिवार के…


मुझे चोदा दम लगाकर

Antarvasna, desi kahani: प्रकाश ऑफिस से थके हुए आते हैं मैं उन्हें पानी देती हूं तो वह मुझे कहते हैं कि मोहनी बच्चे नजर नहीं आ रहे हैं मैंने प्रकाश को कहा बच्चे तो खेलने के लिए गए हुए हैं। प्रकाश उस दिन बहुत ज्यादा चिंतित थे और वह मुझसे कुछ कहना चाहते थे मैंने…


मुझे चोदने आते रहना

Antarvasna, kamukta: मेरा ट्रांसफर अब नागपुर हो चुका था और मैं नागपुर जाने की तैयारी करने लगा मैं स्कूल में अध्यापक हूं और पिछले 7 वर्षों से मैं पुणे में ही कार्यरत था लेकिन अब मेरा ट्रांसफर नागपुर हो चुका था। जब मैं नागपुर आया तो नागपुर में मेरे चाचा जी की लड़की वैशाली भी…


Page 1 of 8
1 2 3 8

error: