लंड चूत मे जाने के लिए उछल रहा था

Antarvasna, desi kahani: मेरी कॉलोनी में पायल रहा करती थी पायल और मेरी काफी समय तक तो बात नहीं हुई लेकिन जब हम लोगों की बात हुई तो उसके बाद पायल के पापा का ट्रांसफर लखनऊ हो गया और पायल का संपर्क मुझसे काफी सालों तक हो नहीं पाया। मैं भी अपने काम में बिजी…


चूत का कमाल हो गया

Antarvasna, desi kahani: मैं पुणे के एक कॉलेज से एमबीए की पढ़ाई कर रहा था और कुछ समय बाद मेरी पढ़ाई पूरी हो चुकी थी। कॉलेज के कैंपस प्लेसमेंट के दौरान मेरा सिलेक्शन हो गया और मैं नौकरी के लिए चेन्नई चला गया मैं अपने घर से दूर था हालांकि पापा बिल्कुल भी नहीं चाहते…


लंड से जूस निकाल दिया

Antarvasna, desi kahani: मैं अपने घर से बाहर निकला ही था कि हमारे पड़ोस में रहने वाले मिश्रा जी मुझे दिखाई दिए उन्होंने मुझे कहा कि रोहित बेटा तुम कैसे हो? मैंने उन्हें कहा अंकल मैं तो ठीक हूं। वह मुझसे पूछने लगे कि बेटा क्या तुम्हारे पापा अभी घर पर ही हैं मैंने उन्हें…


मौका मिला चुदाई का

Antarvasna, desi kahani: मैं और काव्या हर रोज पार्क में मॉर्निंग वॉक के लिए जाया करते हैं काव्या से मेरी शादी को हुए 10 वर्ष हो चुके हैं मैं अपनी शादीशुदा जिंदगी से काफी खुश हूं। एक दिन हम दोनों सुबह पार्क में टहलने के लिए गए हुए थे तो उस दिन हमारे पड़ोस में…


लंड आज भी तडपता है

Antarvasna, desi kahani: यह बात कुछ वर्ष पुरानी है मै उस समय कॉलेज मे था मै ज्यादतर समय दोस्तो को साथ बिताया करता हमारी कॉलोनी मे एक लड़की आती है। मुझे वह लड़की बड़ी पसंद आयी उसकी नशीली आंखे मेरे ऊपर जादू कर गयी मुझे ऐसा लगा मानो मुझे उससे प्यार हो गया। वह हमारे…


आपकी एक दिन की पत्नी

Antarvasna, hindi sex kahani: निकिता ने मुझे कहा कि आकाश मुझे ऑफिस के लिए देर हो रही है तुम नाश्ता कर लेना मैं अभी ऑफिस के लिए निकल रही हूं और यह कहते हुए निकिता चली गई मैंने भी किचन से सैंडविच के दो पीस लिए और साथ में चाय भी ले ली उसके बाद मैं…


गुलाबी चूत में मेरा लंड

Antarvasna, hindi sex story: कॉलेज का मेरा दूसरा दिन था और जब मैं कॉलेज पहुंचा तो उस वक्त काफी ज्यादा बारिश हो रही थी मैं लाइब्रेरी के बाहर खड़ा हो गया क्योंकि बारिश काफी ज्यादा तेज थी इसलिए वहां से मेरे क्लासरूम तक जाना थोड़ा मुश्किल था मैं वहीं खड़ा था। मुझे वहां पर का…


वीर्य वर्षा स्तनों पर

Antarvasna, hindi sex story: पिताजी का ट्रांसफर कुछ समय पहले ही हुआ और अब हम लोग रायपुर आ चुके थे रायपुर बिल्कुल नया था और हम लोग आस पड़ोस में किसी को जानते भी नहीं थे। मेरे कॉलेज की पढ़ाई तो पूरी हो चुकी है और मैं घर पर अकेली ही थी तो मैं बहुत…


गांड से निकलते वीर्य को साफ कर दो

Antarvasna, hindi sex stories: मैंने मोहन और उसके सहकर्मी को रंगे हाथों पकड़ लिया था मेरे दिमाग में अब सिर्फ यही चल रहा था कि क्या मोहन मेरे साथ अपनी जिंदगी को बिता पाएंगे या नहीं मैं इसी कशमकश में थी और कई दिनों तक मोहन और मेरे बीच बात नहीं हुई। इसी बीच मेरे…


Page 1 of 9
1 2 3 9

error: