नताशा ने दुबारा लंड लिया

Antarvasna, hindi sex story: नताशा के मेरी जिंदगी में आने से मेरी जिंदगी मैं काफी कुछ बदलाव आ चुका है। मैं अपनी जिंदगी में पूरी तरीके से टूट चुका था मेरे बिजनेस में हुए नुकसान से मेरी जिंदगी में काफी ज्यादा परेशानियां आ चुकी थी जब नताशा मेरी जिंदगी में आई तो मैं काफी खुश…


उसने मेरे मोटे लंड को हिलाया

Antarvasna, kamukta: मैं सुबह अपनी कॉलोनी के पार्क में जॉगिंग के लिए गया हुआ था और मैं जब वहां से वापस लौट रहा था तो मुझे नीलिमा मिली। नीलिमा मुझे कहने लगी कि गौतम मैं तुमसे मिलना चाह रही थी मैंने नीलिमा से कहा कि क्या तुम्हें कुछ जरूरी काम था। नीलिमा मुझे कहने लगी…


प्रिया के होठों का मजा

Antarvasna, desi kahani: मैं सुबह के वक्त दुकान जाने की तैयारी कर रहा था मां ने नाश्ता बना दिया था मां ने मुझे कहा कि बेटा तुम नाश्ता कर लो। मैंने मां से कहा कि मां बस मैं नाश्ता कर लेता हूं और थोड़ी देर बाद मैंने नाश्ता किया और उसके बाद मैं अपनी शॉप…


मेरी और प्रिया की कोर्ट मैरिज

Antarvasna, desi kahani: मेरे कॉलेज का पहला दिन था और मैं जब अपने क्लास में गया तो उस दिन मेरी मुलाकात राघव के साथ हुई। मेरी मुलाकात राघव से पहली बार ही हुई और हम दोनों की दोस्ती भी काफी अच्छी हो गई थी। राघव और मेरी दोस्ती काफी अच्छी हो गई थी हमारे क्लास…


सुधा ने मेरी गर्मी को बढ़ा दिया

Antarvasna, kamukta: मैं अपने दोस्त रमेश को मिलने के लिए उसके घर पर गया था रमेश उस दिन घर पर ही था क्योंकि रविवार का दिन था और उसकी छुट्टी भी थी। रमेश के साथ उस दिन मेरी काफी समय के बाद मुलाकात हुई थी तो मुझे भी रमेश से मिलकर अच्छा लगा और रमेश…


लंड तडप रहा था चूत के लिए

Antarvasna, hindi sex story: Lund tadap raha tha chut ke liye मैं काफी दिनों से नौकरी की तलाश में था लेकिन अभी तक मुझे कहीं नौकरी मिल नहीं पाई थी। मैंने अपने मामा जी के लड़के आकाश से जब इस बारे में बात की तो वह मुझे कहने लगा कि शोभित तुम बिल्कुल भी चिंता…


मैं चोदता रहा रात भर

Antarvasna, hindi sex kahani: मेरे और मेरी पत्नी के बीच बिल्कुल भी संबंध अच्छे नहीं थे हम दोनों के डिवोर्स की नौबत तक आ चुकी थी। हम दोनों की शादी को 5 साल हो चुके हैं और अब तक हम दोनों के बीच कुछ भी ठीक नहीं चल रहा। किसी प्रकार मैंने अपनी शादी के…


हमारी रंगीन रात

Antarvasna, kamukta: मेरे दोस्त मनीष का मुझे एक दिन फोन आता है वह काफी ज्यादा परेशान था वह मुझे कहने लगा कि रोहन मुझे तुमसे मिलना है। मैंने मनीष को कहा हां कहो मनीष तुम्हें क्या काम था तो वह मुझे कहने लगा कि मुझे तुमसे मिलना है मुझे तुमसे कुछ जरूरी काम था। मैंने…


पत्नी की चूत का सुख

Antarvasna, kamukta: कॉलेज में प्लेसमेंट के दौरान मेरा सिलेक्शन हो गया था और मेरे सेलेक्शन से मेरे माता-पिता बहुत ही ज्यादा खुश थे उन्होंने हमारी कॉलोनी में लड्डू भी बंटवाये थे। पापा इस बात से बड़े खुश थे मेरे पापा एक सरकारी विभाग में नौकरी करते हैं। अब मैं कुछ दिनों के लिए दिल्ली ट्रेनिंग…


Page 1 of 7
1 2 3 7