रीना की चूत में धक्के मारे


Antarvasna, desi kahani: मैं और अनिल एक दूसरे के साथ दिल्ली में रहते हैं हम दोनों लखनऊ के रहने वाले हैं लेकिन पिछले दो महीने से हम दोनों साथ में रह रहे हैं। मेरी और अनिल की नौकरी दो महीने पहले दिल्ली में लगी और हम लोग जिस सोसाइटी में रहते हैं वहां पर मेरे चाचा जी भी रहा करते हैं जिनसे कि मैं अक्सर मिलने के लिए जाया करता हूं। एक दिन मेरी छुट्टी थी तो मैंने अनिल को कहा कि चलो आज चाचा जी के घर हो आते हैं अनिल मुझे कहने लगा कि हां ठीक है हम लोग चलते हैं मैं बस अभी नहा कर आता हूं। अनिल नहाने के लिए बाथरूम में चला गया मैं रूम में बैठा हुआ था अनिल थोड़ी देर बाद नहा कर आया और हम लोग जल्दी से तैयार होकर चाचा जी के घर चले गए। हम लोग जैसे ही चाचा जी के घर पर पहुंचे तो हमने उनके घर की डोर बेल बजाई उन्होंने तुरंत दरवाजा खोला। 

जब चाचा जी ने दरवाजा खोला तो मैंने उनसे कहा चाचा जी कैसे हो, क्या आज आप घर पर ही हो तो वह मुझे कहने लगे कि हां मैं आज घर पर ही हूं। हम लोग सुबह के वक्त चाचा जी के घर पर गए थे तो उन्होंने मेरे लिए और अनिल के लिए नाश्ता तैयार करवा दिया चाचाजी और मैं साथ में बैठे हुए थे और हमारे साथ में अनिल भी बैठा हुआ था। मैंने चाचा जी से कहा कि मैं कुछ दिनों के लिए लखनऊ जा रहा हूं तो वह मुझसे कहने लगे कि बेटा जब तुम वापस आओ तो अपने मम्मीपापा को भी यहां लेते हुए आना। मैंने चाचा जी से कहा ठीक है इस बारे में मैं उनसे बात जरूर करूंगा। मम्मी पापा दिल्ली में मेरे साथ रहना नहीं चाहते थे वह लोग लखनऊ में ही रहते हैं और लखनऊ में मेरी बहन अदिति उनके साथ में रहती है। मैंने चाचा जी को कहा चाचा जी अब मैं चलता हूं उसके बाद अनिल और मैं वापस लौट आए हम लोगों ने चाचा जी के घर पर ही नाश्ता कर लिया था जब हम लोग घर लौटे तो उसके कुछ दिनों बाद मैंने ऑफिस से छुट्टी ले ली। मैंने जब ऑफिस से छुट्टी ली तो उसके बाद मैं अपने घर चला गया मैं जब अपने घर गया तो मैंने पापा मम्मी से अपने साथ चलने की बात कही लेकिन वह लोग मेरी बात नहीं माने और कहने लगे की बेटा हम तुम्हारे साथ नहीं आ पाएंगे।

 कुछ दिन बाद मैं वापस दिल्ली लौट आया था मैं जब वापस दिल्ली लौट रहा था तो उस वक्त बस में मेरी मुलाकात रीना के साथ हुई। रीना मेरी बगल वाली सीट में बैठी हुई थी उससे बातें करके मुझे ऐसा लगा कि जैसे मैं और रीना एक दूसरे को सदियों से जानते हो और हम दोनों के बीच में काफी अच्छी बात हुई। हम दोनों के बीच में बहुत अच्छी बात हुई और हम दोनों ने बस में एक दूसरे से नंबर भी ले लिया। हम दोनों एक दूसरे के नंबर ले चुके थे मुझे काफी ज्यादा अच्छा लग रहा था जिस प्रकार से मैं और रीना साथ में थे। हम लोग दिल्ली पहुंच चुके थे जब हम लोग दिल्ली पहुंचे तो मैंने रीना का नंबर लेने के बाद मैं उससे फोन पर बातें करने लगा। मैं जब भी रीना से बातें करता तो मुझे काफी अच्छा लगता हम लोग एक दूसरे से मिलने भी लगे थे हम दोनों जब भी एक दूसरे को मिलते तो हम दोनों को ही एक दूसरे से बातें करना काफी ज्यादा अच्छा लगता। मेरे और रीना के बीच की नजदीकियां काफी बढ़ चुकी थी लेकिन मुझे नहीं मालूम था कि रीना का रिलेशन पहले से ही किसी लड़के के साथ चल रहा है यह बात उसने मुझसे छुपाई थी। मैंने जब रीना को उस लड़के के साथ देखा तो मुझे रीना पर बहुत गुस्सा आया। मैंने रीना से जब इस बारे में पूछा तो रीना मुझसे तब भी अपने रिलेशन के बारे में बता नहीं रही थी लेकिन जब उसने मुझे पूरी बात बताई तो मैंने भी रीना की बात मान ली।

 रीना ने मुझे बताया कि वह जिस लड़के के साथ थी वह उसका बॉयफ्रेंड था लेकिन उन दोनों के बीच में कोई भी रिलेशन नहीं है क्योंकि उन दोनों ने एक दूसरे से अलग होने का फैसला कर लिया है। उसके बाद रीना ने मुझे उससे मिलाया जब मुझे रीना ने ललित से मिलवाया तो मैंने रीना से कहा देखो रीना अब हम लोगों को अपने रिश्ते को आगे बढ़ाना चाहिए। रीना और ललित अब एक दूसरे से अलग हो चुके थे और मुझे पूरा भरोसा था इसीलिए तो मैं और रीना एक दूसरे के साथ ज्यादा समय बिताने लगे थे। मैं रीना को अच्छे से समझने लगा था और वह भी मुझे समझने लगी थी मेरे लिए यह बहुत ही खुशी की बात है कि रीना मेरे जीवन में आ चुकी है और वह अब मुझसे बहुत ज्यादा प्यार करने लगी है। हम दोनों का प्यार दिनदिन बढ़ता जा रहा था मैं और रीना साथ में बड़े ही अच्छे से रहते तो हम दोनों को ही बहुत अच्छा लगता हम दोनों एक दूसरे से काफी प्यार करने लगे थे। एक दिन मैं और रीना साथ में बैठे हुए थे उस दिन रीना मुझे कहने लगी कि रोहित मुझे कई बार लगता है कि हम दोनों को एक हो जाना चाहिए और हम दोनों को शादी कर लेनी चाहिए। मैंने रीना को कहा रीना मैं भी यही चाहता हूं लेकिन तुम तो जानती हो कि मुझे अभी थोड़ा समय चाहिए मैंने फिलहाल इस बारे में कुछ भी नहीं सोचा है लेकिन मैं तुम्हारे साथ हमेशा ही खुश हूं।

मैंने रीना के बदन को गर्म करना शुरू किया मै उसकी जांघों को सहला रहा था। जब मैं उसकी जांघों को सहला रहा था तो वह पूरी तरीके से गर्म होती जा रही थी। कुछ देर तक तो रीना के होठों को चूसता रहा। उसके बाद जब वह गर्म होने लगी तो मुझसे बिल्कुल भी रहा नहीं जा रहा था। मैंने रीना को कहा रहा तो मुझसे भी बिल्कुल नहीं जा रहा है। मैंने रीना के कपड़ों को उतार दिया था मैने जब रीना के कपड़ों को उतारा तो मैंने देखा उसकी योनि से पानी बाहर की तरफ निकल रहा है। रीना की योनि से गर्म पानी बाहर निकल रहा था मैंने रीना को कहा मुझे बहुत ज्यादा अच्छा लग रहा है। रीना मुझे कहने लगी मुझे भी काफी ज्यादा अच्छा लग रहा है। उसकी योनि से इतना ज्यादा पानी निकलने लगा था कि वह मेरे लंड को लेने के लिए बहुत ज्यादा बेताब हो चुकी थी। मैंने रीना को कहा तुम मेरे लंड को सकिंग कर लो। 

उसने मेरे लंड को चूसना शुरू किया और वह मेरे लंड को जिस प्रकार से चूस रही थी उससे मुझे मजा आने लगा था और उसे भी बड़ा मजा आ रहा था। वह बहुत ज्यादा गर्म हो चुकी थी वह मुझे कहने लगी मेरी गर्मी को तुमने पूरी तरीके से बढा कर रख दिया है। मैंने उसकी योनि पर अपने लंड को लगाया तो उसकी योनि से पानी बाहर की तरफ निकल रहा था। मैंने धीरे से उसकी योनि के अंदर अपने लंड को घुसा दिया था। मेरा लंड रीना की योनि के अंदर जा चुका था मेरा लंड रीना की योनि में घुसा तो वह बहुत जोर से चिल्ला कर मुझे बोली मेरी चूत से खून निकलने लगा है। मैंने रीना की चूत की तरफ नजर मारी तो मैंने देखा रीना की योनि से खून निकल रहा था। मैं उसके पैरों को चौड़ा किया तो वह कहने लगी मुझे बहुत ज्यादा अच्छा लग रहा है। मैं रीना की योनि के अंदर बाहर अपने लंड को कर रहा था। रीना पूरी तरीके से उत्तेजित हो रही थी और मुझे भी बहुत ज्यादा मजा आ रहा था जिस प्रकार से मै रीना की चूत के मजे ले रहा था। रीना मुझे कहती मुझे और भी तेजी से धक्के मारते जाओ। 

मैंने रीना को बड़ी तेजी से धक्के दिए और उसकी चूत में मैंने अपने माल को गिरा दिया। रीना की चूत में मेरा माल जाते ही मुझे बहुत मजा आया और रीना को भी काफी ज्यादा अच्छा लगा। हम दोनों ने जिस तरह एक दूसरे के साथ सेक्स संबंध बनाए उस से हम दोनों को काफी अच्छा लगा और हम दोनों काफी खुश थे लेकिन रीना और मेरी इच्छा अभी पूरी नहीं हुई थी। मैंने रीना से कहा तुम मेरे लंड को सकिंग करो। रीना ने मेरे लंड को सकिंग करना शुरू किया और थोड़ी देर बाद उसकी चूत में मैने लंड घुसा दिया। मेरा मोटा लंड रीना की योनि में जाते ही वह चिल्लाकर मुझे बोली मुझे मजा आ गया। मुझे भी काफी ज्यादा मजा आ चुका था और मैं वह मेरा साथ अच्छे से दे रही थी। मैं रीना की चूत के अंदर बाहर लंड को करता तो मुझे मजा आता। रीना की योनि से खून बाहर की तरफ निकल रहा था और जिस प्रकार से मैंने रीना की योनि के अंदर अपने माल को गिराया उससे वह खुश हो गई थी। करीब 5 मिनट की चुदाई के बाद रीना पूरी तरीके से संतुष्ट हो चुकी थी और मुझे कहने लगी आज तुमने मेरी इच्छा को पूरा कर दिया है मैं बहुत ज्यादा खुश हूं।