पायल ने मुझे खुश कर दिया


Antarvasna, kamukta: कॉलेज खत्म हो जाने के बाद मैं अपने भविष्य को लेकर थोड़ा चिंतित जरूर था क्योंकि मैं चाहता था कि जल्द से जल्द मेरी नौकरी लग जाए और इसी बात को लेकर मैं बहुत ज्यादा परेशान था। मेरी नौकरी नहीं लगी थी मेरे कॉलेज को पूरा हुए करीब 3 महीने हो चुके थे लेकिन मुझे काफी समय तक अच्छी नौकरी नहीं मिल पाई थी और मैं इसी परेशानी में था। एक दिन मेरा दोस्त रोहित घर पर आया हुआ था वह मुझे कहने लगा कि तुम इतने परेशान क्यो हो रहे हो तुम्हारी नौकरी लग जाएगी। मैंने रोहित को कहा कि रोहित तुम तो जानते ही हो कि घर की स्थिति भी ठीक नहीं है और मैं चाहता हूं कि जल्द ही मेरी नौकरी लग जाए। रोहित ने मुझे कहा कि तुम बिल्कुल भी परेशान ना हो तुम्हारी नौकरी जरूर लग जाएगी। रोहित उस दिन तो अपने घर चला गया था लेकिन शायद वह ठीक कह रहा था क्योंकि अगले दिन ही मुझे एक कंपनी से इंटरव्यू के लिए कॉल आया। मैं जब उस कंपनी में इंटरव्यू देने के लिए गया तो मेरा वहां पर सिलेक्शन हो चुका था और मैं अब इस बात से बहुत ज्यादा खुश था। मैंने जब यह बात रोहित को बताई तो रोहित मुझे कहने लगा कि मैं तुम्हें कहता था ना कि तुम्हारी जॉब जरूर लग जाएगी।

मैंने रोहित को कहा कि हां तुम ठीक कहते थे। मेरी नौकरी  लग चुकी थी मैं अपनी नौकरी पर पूरी तरीके से ध्यान दे रहा था। मुझे इस बात की बड़ी खुशी है कि मेरी जॉब लग जाने के बाद मैं अपने और अपने परिवार की देखभाल अच्छे से कर पा रहा हूं। मेरे ऊपर ही घर की सारी जिम्मेदारी थी और मुझे इस बात की बड़ी खुशी है कि मैं अपनी फैमिली की जिम्मेदारी को बड़े ही अच्छे से निभा पा रहा था। मेरी छोटी बहन के लिए भी रिश्ते आने लगे थे और पापा और मां चाहते थे कि मेरी बहन की शादी हो जाए। मैंने पापा और मां से कहा कि आप लोग बिल्कुल भी चिंता ना करें और मैंने ही अपनी बहन की शादी की सारी जिम्मेदारी उठाई। उसकी शादी हो जाने के बाद एक दिन मैं और मां साथ में बैठे हुए थे तो मां मुझे कहने लगी कि बेटा तुम अपने लिए भी कोई लड़की देख लो। मैंने मां से कहा कि मां फिलहाल तो मैंने इस बारे में कुछ भी नहीं सोचा है।

पापा और मां चाहते थे कि मैं भी अब अपने लिए लड़की देख लूं और जल्द ही मैं शादी कर लूं। मेरी जिस कंपनी में जॉब लगी थी वहां पर मैं बहुत ही ज्यादा खुश हूं। एक दिन मैं अपने कुछ पुराने दोस्तों को मिला और उनसे मिलने के बाद मैं उस दिन घर लौट आया था। उस दिन अपने दोस्तों से मिलकर मुझे अच्छा लगा और काफी लंबे समय बाद अपने दोस्तों से मुलाकात हो पाई थी। उन लोगों से मैं काफी लंबे समय के बाद मिला था और मुझे बहुत ही अच्छा लगा जब उन लोगों से मेरी मुलाकात हुई। उस दिन मैं घर लौट आया था लेकिन कुछ दिनों के बाद मुझे अपने दोस्त की शादी में जाना था और मैं अपने दोस्त की शादी में गया हुआ था उसी शादी में मुझे पायल दिखी। पायल को देखते ही मेरा दिल उसके लिए धडक ऊठा। मैंने उसी दिन सोच लिया था मुझे पायल से बात करनी है। मैंने उस दिन पायल से बात कर ली थी लेकिन मुझे बिल्कुल भी उम्मीद नहीं थी उसके बाद कभी हम लोगों की मुलाकात हो पाएगी या नहीं।

उसके कुछ समय बाद ही मेरी बहन से मेरी मुलाकात हुई। मैं पायल से मिला तो मुझे बहुत ही अच्छा लगा जिस तरीके से पायल और मेरी मुलाकात हुई थी उससे हम दोनों एक दूसरे के करीब आने लगे थे। हम लोगों एक दूसरे को मिलने लगे थे मैं पायल के साथ डेट करने लगा था और पायल को मेरा साथ अच्छा लगने लगा था। पायल के पिताजी बिजनेसमैन है। पायल को मैंने अपने बारे में सब कुछ बता दिया था मैंने कभी भी पायल से कुछ चीज छुपाई नहीं थी। पायल को उससे कोई भी ऐतराज नहीं है और वह मेरे साथ बहुत ही खुश है। जिस तरीके से हम दोनों एक दूसरे के साथ होते हैं उससे हम लोगों को बहुत ही अच्छा लगता है मेरा रिलेशन पायल के साथ बहुत ही अच्छे से चल रहा है और मैं बहुत ज्यादा खुश हूं। पायल और मैं एक दूसरे को बहुत ही ज्यादा प्यार करते हैं जब भी हम दोनों एक दूसरे के साथ होते हैं तो हमको बहुत ही अच्छा लगता है और पायल मुझे बहुत ही अच्छे से समझती है।

वह मुझसे बहुत ज्यादा प्यार करती है एक दिन पायल और मैं साथ में बैठे हुए थे उस दिन जब हम दोनों साथ में बैठे हुए थे तो मैंने पायल को कहा पायल क्या हम लोग कल शॉपिंग के लिए जाए? पायल मुझे कहने लगी हां क्यों नहीं और अगले दिन हम दोनों साथ में शॉपिंग करने गए। उस दिन हम लोगों ने साथ में काफी अच्छा टाइम बिताया। उस दिन हम लोगों ने मूवी देखी और मूवी देखने के बाद काफी देर हो चुकी थी। पायल अपने घर चली गई थी और मैं भी घर पहुंच चुका था। पायल का मुझे फोन आया वह मुझे कहने लगी क्या तुम घर पहुंच चुके हो? मैंने पायल से कहा हां मैं घर पहुंच चुका हूं। वह मुझे कहने लगी मैंने तुम्हें इसीलिए ही फोन किया था। अगले दिन भी हम दोनों एक दूसरे को मिले हम दोनों साथ मे बैठे हुए थे और एक दूसरे से बातें कर रहे थे। पायल का मेरी जिंदगी में आना मेरे लिए बहुत ही अच्छा है जब से पायल मेरी जिंदगी में आई है तब से मेरी जिंदगी में खुशियां बहुत ही ज्यादा बढ चुकी है।

पायल मेरी जिंदगी में अहम भूमिका रखती है और मुझे बहुत ही अच्छा लगता है जब भी पायल और मैं एक दूसरे के साथ होते हैं और हम दोनों का प्यार दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है जिस तरीके से पायल और मैं एक दूसरे से प्यार करते हैं यह हम दोनों के लिए बहुत ही अच्छा है। पायल और मैं दूसरे को बहुत ज्यादा प्यार करते हैं। हम दोनों एक दूसरे के साथ ज्यादा समय बिताने की कोशिश करते हैं। एक दिन पायल और मैंने फैसला किया आज हम लोग साथ में ही रुकेंगे। उस दिन हम दोनों साथ रूकने वाले थे। पायल ने मुझे कहा आज तुम मेरे साथ मेरे घर पर चलो। पायल के घर पर उस दिन कोई भी नहीं था इसलिए पायल ने मुझे कहा तुम मेरे साथ मेरे घर पर चलो और मैं पायल के घर पर चला गया। हम दोनों के बीच इस से पहले भी कई बार किस हो चुके थे लेकिन यह पहली बार था जब हम दोनों एक दूसरे के साथ सेक्स करने जा रहे थे और हम दोनो एक दूसरे की बाहों में थे। जब मैं और पायल एक दूसरे की बाहों में लेटे हुए थे तो मैंने पायल के होठों को चूम लिया और उसके होंठों को चूमना शुरु किया। मेरे लिए यह बहुत ही अच्छा था मैंने पायल के होंठो को पूरी तरीके से गरम कर दिया था।

उसके बाद उसका बदन गरम होने लगा वह रह नहीं पा रही थी। वह मुझे कहने लगी मुझसे बिल्कुल भी नहीं रहा जा रहा है। मुझसे भी नहीं रहा जा रहा था अब मैंने पायल के सामने अपने लंड को किया। पायल मेरे लंड को देखकर कहने लगी तुम्हारा लंड तो बहुत ही ज्यादा मोटा है। मैंने पायल से कहा तुम मेरे लंड को मुंह में ले लो। उसने मेरे मोटे लंड को अपने मुंह में लेकर उसे सकिंग करना शुरु किया वह मेरी गर्मी को बढा रही थी। हम दोनों को बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था और हम दोनों बहुत ज्यादा खुश थे। मैंने पायल के सामने आपने मोटे लंड को किया हुआ था वह मेरे लंड को बड़े अच्छे से मुंह में ले रही थी। मैं चाहता था मैं पायल के गोरे बदन को महसूस करूं। मैंने उसके बदन को महसूस करना शुरू कर दिया था मैं उसके स्तनों को बड़े ही अच्छे से चूस रहा था और उसके स्तनों का रसपान करना मेरे लिए बहुत ही अच्छा था। उसके स्तनों को जिस तरीके से मैं चूस रहा था उससे मुझे मजा आ रहा था और मैं बहुत ही ज्यादा खुश था।

मैंने पायल  की चूत के अंदर अपने लंड को घुसाने का फैसला कर लिया था। मैंने पायल की चूत मे लंड रगडना शुरू किया उसकी चूत से निकलता हुआ पानी मेरी गर्मी को बढ़ाए जा रहा था। अब वह बहुत ज्यादा गर्म हो चुकी थी मैंने पायल को कहा मैं तुम्हारी चूत में लंड को डालना चाहता हूं। मैंने पायल की चूत में अपने लंड को घुसा दिया जैसे ही मेरा लंड पायल की चूत में घुसा तो वह जोर से चिल्लाई और मुझे कहने लगी मुझे मजा आने लगा है। अब मैं पायल का साथ अच्छे से दिए जा रहा था मैं उसे तेजी से धक्के दिए जा रहा था। जब मैं उसे धक्के दे रहा था तो वह बहुत जोर से चिल्लाती और मुझे कहती तुम मुझे ऐसे ही चोदते रहो। मैंने पायल के दोनों पैरों को चौड़ा कर लिया था जब मैंने देखा पायल की चूत से खून निकल रहा है तो मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आने लगा था। पायल को भी बहुत ज्यादा मजा आने लगा था। हम दोनों एक दूसरे की गर्मी को बढ़ा रहे थे हम दोनों की गर्मी बढ़ती ही जा रही थी।

मेरे लंड आसानी से उसकी चूत मे जा रहा था। पायल की मादक आवाज बढने लगी थी और वह मुझे कहने लगी मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा है तुम मुझे ऐसे ही धक्के देते जाओ। मैंने पायल को बहुत देर तक धक्के दिए। जब मुझे एहसास होने लगा मैं बिल्कुल भी रह नहीं पाऊंगा तो वह मुझे कहने लगी मुझे और तेजी से चोदो। उसके बाद मैं और पायल एक दूसरे के साथ बड़े ही खुश थे। मेरा माल उसकी चूत मे गिर चुका था। पायल और मैंने एक दूसरे की गर्मी को शांत कर दिया था। जब हम दोनों ने एक दूसरे की गर्मी को शांत कर दिया था तो अब हम दोनों ने अपने कपड़ों को पहन लिया था। मैं और पायल साथ में बैठे हुए थे लेकिन उस रात मुझे पायल के साथ सेक्स करना बहुत ही अच्छा लगा। उसके बाद भी हम दोनों ने एक दूसरे की गर्मी को और ज्यादा बढ़ा दिया था और हम दोनों को बहुत ही अच्छा लगा था। मैंने और पायल ने एक दूसरे के साथ उस रात दो बार और सेक्स करने के मजे लिए और एक दूसरे की गर्मी को शांत कर दिया था।