घर के दरवाजे खुले हैं

Antarvasna, kamukta मेरी इलेक्ट्रॉनिक आइटम की एक दुकान है मेरे दुकान में दो लोग काम करते हैं और मुझे अपनी दुकान को खोले हुए 5 वर्ष हो चुके हैं। मैं एक दिन अपनी दुकान से वापस लौट रहा था उस दिन मुझे कुछ काम था तो मैंने सोचा मैं जल्दी ही घर लौट जाता हूं।…


तुम क्या करोगे बताओ

Hindi sex stories, Kamukta मैं अपने ऑफिस से लौटा ही था कि मेरी पत्नी महिमा मुझे कहने लगी आदर्श मुझे आपसे कुछ काम था मैंने अपनी पत्नी महिमा से कहा हां महिमा कहो तुम्हें क्या काम था वह कहने लगी आप पहले फ्रेश हो जाइए फिर मैं आपको बताती हूं। मैं बाथरूम में चला गया…


चूत दोगी तो फोन करना

Antarvasna, kamukta मेरा नाम ललित है मैं लखनऊ का रहने वाला हूं मैं लखनऊ में प्रिंटिंग प्रेस चलाता हूं और मुझे प्रिंटिंग प्रेस चलाते हुए गरीब 10 वर्ष हो चुके हैं। मेरा काम बहुत ही अच्छे से चल रहा है और मैं अपने परिवार के साथ बहुत खुश हूं मेरे पिताजी रेलवे में जॉब करते…


जेठ जी ऐसे ना देखो मुझे

Hindi sex story, kamukta बच्चों की स्कूल की छुट्टी होती है लेकिन मुझे कुछ पता ही नहीं चलता क्योंकि मैं अपने काम में इतना व्यस्त रहता हूं कि मुझे शायद ही अपने परिवार के बारे में कुछ पता होता है। मेरी पत्नी कई बार मुझे कहती है कि आप इतने व्यस्त रहते हैं कि आप…


डालो ना गांड में

Antarvasna, hindi sex story राधिका की शादी को हुए अभी 6 महीने ही हुए थे लेकिन वह खुश नहीं थी राधिका मेरी बहन का नाम है राधिका उम्र में मुझसे दो वर्ष छोटी है उसकी शादी हम लोगों ने एक अच्छे परिवार में करवाई लेकिन उसके बावजूद भी शायद वह दुखी थी। मुझे उसके दुख…


भाभी गांड दोगी क्या मुझे?

Antarvasna, kamukta मेरा नाम अमित है मैं फरीदाबाद का रहने वाला हूं मेरे पिताजी बैंक में जॉब करते हैं और मैं एक प्राइवेट संस्थान में नौकरी करता हूं। हमारे परिवार में मेरे माता पिता और मेरे बड़े भैया हैं मेरे भैया की शादी को 3 वर्ष हो चुके हैं मेरे भैया का नाम मोहन है…


सलवार का नाड़ा तोड़ दिया

Kamukta, antarvasna मैं और राजेश बचपन के दोस्त हैं हम दोनों के बीच बहुत अच्छी दोस्ती है और हम दोनों एक दूसरे के पड़ोस में ही रहते हैं राजेश एक दिन मुझसे कहने लगा यार मैं सोच रहा था अपने गांव हो आऊं। राजेश के पिताजी का भी गांव से बहुत लगाव है और उनका…


मैं अकेली हूं इसीलिए प्यासी हूँ

Antarvasna, kamukta मैं चंडीगढ़ में नौकरी करता हूं और मैं जिस कंपनी में नौकरी करता हूं उस के सिलसिले में मुझे कई बार अन्य शहरों में भी जाना पड़ता है मैं अपने घर पर बहुत कम ही समय बिताया करता हूं क्योंकि मुझे ज्यादातर बाहर ही रहना पड़ता है। एक बार मैं अपने काम के…


तुम मुझे समझते हो

Kamukta, antarvasna मेरे पिताजी पुलिस में हैं और वह बड़े ही सख्त मिजाज के हैं उनसे हमारे मोहल्ले में सब लोग डरते हैं और मैं भी अपने कॉलेज के बाद अपने घर पर ही थी लेकिन मेरा कई बार मन होता कि मैं किसी स्कूल में पढ़ाऊँ लेकिन अपने पिताजी के सामने मेरी हिम्मत ही…


Page 12 of 119
1 10 11 12 13 14 119

error: