ऑफिस की चुदाई में बहुत मज़ा आया


कैसे मेरे पुराने दोस्तों और कभी कभी याद भी कर लिया करो यार अपने पुराने दोस्त को | मुझे तो लगता है जब तक मैं आप लोगो के लिए कुछ करता रहूँगा तभी तक आप लोग मुझे याद रखेंगे वरना भूल जायेंगे | चलिए जो मुझे जानते है उनको नमश्कार और जो नये पाठक हैं उनको भी सलाम | मेरा नाम है सूरज और मैं कुलियाना मोहल्ले जिला जबलपुर का रहने वाला हूँ | मुझे आज अत्यंत ख़ुशी हो रही है कि मैं आज फिर से आपके सामने आ गया हूँ और मुझे इस बात का बिलकुल भी इल्म न था कि कभी मुझे अब मौका मिल पाएगा आपसे मिलने का | क्यूंकि दोस्तों काम में इतना व्यस्त हो गया हूँ कि पता ही नहीं चलता आराम करू या चुदाई | अब आप ये समझ लीजिये पिछले महीने के बाद मुझे परसों समय मिला चुदाई का | मेरी शादी तो हुयी नहीं है पर मेरे ऑफिस में एक नयी लड़की आई जिसका बॉस के साथ चक्कर चल रहा है उसको मैंने पहले तो ऑफिस में ही बजा दिया | पर मैं पकड़ा गया और फिर मुझे निकाल दिया बॉस ने | पर वो लड़की मेरी चुदाई की इतनी प्यासी हो गयी कि घर तक चली आई मुझे चुदने के लिए |

तो दोस्तों चलो आज आपको बता देता हूँ क्या हुआ था परसों मेरे साथ और केसे हुयी मेरी चुदाई | दोस्तों आपको तो पता ही है मैं एक इंजीनियर हूँ और मुझे अच्छी नौकरी मिली हुई थी | मैं एक तरीके से सेट हो गया था अपनी जिंदगी में और मेरी मामी मेरे लिए लड़की भी देख रही थी | पर मैं तो ठरकी बचपन से हूँ और मुझे जहाँ चूत दिखती है मैं वह पे टूट पड़ता हूँ | यही हुआ मेरे साथ ऑफिस में और मुझे इसकी कीमत आज चुकानी पड़ रही है | मैंने कभी भी नहीं सोचा था मुझे अपनी इस आदत की वजह से अपनी नौकरी गंवानी पड़ेगी | हुए ये की मैं और मेरे बॉस की बहुत अच्छी बनती है क्क्युनकी मैं यहाँ की बात वहाँ करके उसका चापलूस बन गया था | वो मुझपे बहुत भरोसा भी करता था पर अब क्या फायदा ये सब कहने का | एक दिन एक लड़की आई ऑफिस और बॉस ने मुझसे कहा कि जाओ सूरज इसका काम देखना और जो भिपूचना है पूछ लेना | मैं गया और उससे पूछना चालु किया और उससे काम करवाने लगा कंप्यूटर पे | लड़की थी तो होशियार और खूबसूरत भी थी पर मैंने उससे जाते जाते पुछा क्या तुमहरा बॉयफ्रेंड है | उसने कहा हाँ है न तो मैंने कहा ये सब बाहर करना ऑफिस में ये सब नहीं चलता | उसने कहा ऑफिस में कौन करेगा ऑफिस मैं नया बना लुंगी और चली गयी | मैं समझ गया की ये लड़की बहुत चालु है और किसी को भ पटा के उससे पेसे निकलवा सकती है | बाबद ही खूब फायदा उठा रही थी वो अपनी खूबसूरती का और उसने मुझे इशारा भी किया था कि वो मुझसे पटना चाहती है |

पर जब से वो ऑफिस आई साला उसका कुछ समझ ही नहीं आता था | जब बॉस रहता था तो वो उसके पीछे पीछे घूमती और जब बॉस कहीं जाता तो मुझसे आके चिपक जाती थी | मैंने उससे पुछा क्या करना चाहती हो तुम | उसने कहा मेरा बस एक ही काम है सबको खुश रखना और तुम बड़े ही खुशनसीब हो कि मैं तुम्हरे पास खुद आई हूँ | मैंने कहा सुनो मुझे बेवकूफ मत बनाना मेरे पास तुम जैसी कई आई और चुदवा के वापस गयीं | तो उसने कहा ठीक है मुझे भी चोद के चोद देना और मेरा लंड सहलाने लगी पेंट के ऊपर से ही | वो मेरे लंड को पेंट के ऊपर से ही इंतनी जोर से मसल रही ती की मुझे ऐसा लग रहा था कि मैं दो मिनट भी नहीं टिक पाऊंगा | वो मेरा लंड मसलती रही और मेरा लंड कड़क होता गया | एकदम से मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करते हुए अपनी पेंट के अन्दर ही झड़ गया |

उसने कहा वाह तुमहरा माल तो काफी गाढ़ा है | फिर एक दम से बॉस आ गए और वो इनके पीछे चली गयी | मैं भाग के बाथरूम के अन्दर गया और सब साफ किया पर मेरी पेंट गीली हो गयी थी तो मैंने बॉस से कहा बॉस मैं घर जा रहा हूँ तबीअत ठीक नहीं लग रही | बॉस ने भी कहा हाँ चला जा | मैं बॉस के कमरे के अन्दर नहीं गया बाहर से ही बात की | वो बॉस की गोद में बैठी थी ये मैंने कोने से देखा और बॉस उसके दूध मसल रहे थे | वो बॉस का लंड हिला रही थी और बॉस भी आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः कर रहे थे |

मैं समझ गया था ये साली रंडी है इसे जो भी लंड मिलता है ये खा जाती है | मैं नहीं जानता था कि ये साली कमीनी है पर इतना जानता था कि ये साली हरामी है बहुत बड़ी है | मैं घर तो चला गया पर उस साली ने पता नहीं कहा से मेरा नंबर लेके मुझे कॉल करने लगी | उसके बाद क्या था मेरी उससे दो दिन बात हुयी और उसने अपने पुराने बॉयफ्रेंड को छोड़ दिया और बॉस से बी काटने लगी | सब अच्छा लग रहा था पर एक दिन बॉस ने उझे उसे किस करते हुए देख लिया | बॉस ने मुझे बुलाया और कहा सूरज क्या कर रहा था | मैंने कहा बॉस मैं क्या कर रहा था | तब वो बोला कि तू उस लड़की को किस कर रहा था मैंने कहा बॉस वो मैउन नहीं कर रहा वो खुद मुझसे चिपक रही थी और उसने ज़बरदस्ती मुझे किस किया | आप भी जानते हो मैं ऐसा नहीं करता पर जब वो सामने से खुद देने को आ रही है तो लेने दो न बॉस मेरी तो शादी भी नहीं हुयी है | बॉस ने भी बात को समझा और मेरे कंधे पे हाथ रख के कहा भाई देख मैं उसको चोद लूँ फिर उसके बाद तुझे जो भी करना है तू कर लेना | पर मुझे नहीं पता था कि कुछ ऐसा हो जाएगा जिससे मुझे अपनी नौकरी से हाथ धोना पडेगा |

वो लड़की मुझे बहुत ज्यादा खुल गयी थी | एक दिन काम बहुत ज्यादा था और बॉस ने कहा सूरज भाई आज संभल ले कल तुझे दारु पिलाऊंगा मैंने कहा ठीक है बॉस | वो भी बहाना बना के रुक गयी और फिर रात में मुझे उसने मुझे कहा सुनो और किस करने लगी | मैं भी उसके दूध दबाने लगा और हम लोग तो बस यही जानते थे कि बॉस चला गया | अब मैंने उसके दूध खोले और चूसने लगा वो भी गरम हो गयी और आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करने लगी | पर मुझे याद आया कि मेरे पास कंडोम नहीं है और मैं उसे लेने के लिए नीचे चला गया | जैसे ही मैंने आया मैंने सीधे उसकी चूत में लंड डालके चोदने लगा और वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करने लगी जोर जोर से |

अब मैं उसे चोद रहा था और बॉस आ गया और मुझे मारने के लिए दौड़ा | मैं खिड़की से नीचे कूदा और कचड़े के डब्बे में गिरा | मेरे हाथ में चोट लगी पर मैं भाग गया चड्डी में ही | फिर मैंने अपनी मरहम पट्टी करवाई और घर जाके सो गया | अगले दिन वो वापस आ गयी और मेरे गर और मेरे ऊपर लेट गयी और मुझे चूमने लगी | फिर मैंने उसके दूध पिए और उसकी चोट में ऊँगली की |  मैंने कहा मेरा लंड चूस बूस का तो बहुत चूसा है | उसने मेरा लंड चूसा और मेरा माल गिरा दिया | अब मैंने उसकी चूत में ऊँगली डाल के चाटा और उसका खुद माल गिरवाया | फिर मैंने उसको जमके चोदा अपने घर में और वो बस आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करती रही |

पर उसके बाद मैं उसे बस तीन ही बार और चोद पाया क्यूंकि उसका पुराना बॉयफ्रेंड आ गया था उसके पास वापस पर वो मुझे कभी भूल नहीं पायी और मुझे आज भी कॉल करती है |


error: