मेरा लंड पायल की चूत में


Antarvasna, desi kahani: मेरी नौकरी को लगे हुए अभी कुछ ही समय हुआ था मैं जिस कंपनी में जॉब करता हूं वहां पर मेरी मुलाकात शोभिता के साथ हुई। शोभिता से जब भी मेरी मुलाकात होती तो मुझे बहुत ही ज्यादा अच्छा लगता है और शोभिता को भी बड़ा अच्छा लगता था। जिस तरीके से हम दोनों एक दूसरे को मिलते हैं और एक दूसरे के साथ हम लोग समय बिताया करते हैं उससे हम दोनों की दोस्ती बढ़ती ही जा रही थी। अब हम दोनों के बीच में प्यार भी होने लगा था शोभिता और मैं एक दूसरे को पसंद करने लगे थे और यही वजह थी कि हम दोनों एक दूसरे के बिना एक पल भी नहीं रह पाते थे। शोभिता और मेरी जिंदगी में सब कुछ ठीक चल रहा था लेकिन उस वक्त मुझे मेरी जिंदगी में परेशानियों का सामना करना पड़ा जिस वक्त शोभिता के परिवार वालों ने उसकी सगाई कहीं और ही करवा दी। हालांकि शोभिता ने अपनी फैमिली को मेरे बारे में बताया था लेकिन उसके पिताजी चाहते थे कि वह उनकी मर्जी से ही शादी करें।

शोभिता की सगाई हो जाने के बाद मुझे भी शोभिता को भुलाना पड़ा और मैं अपनी जिंदगी में आगे बढ़ गया था। मैं अपनी जिंदगी में आगे बढ़ गया और अब मेरी लाइफ में सब कुछ सामान्य होने लगा था मैं शोभिता को धीरे धीरे भूलने लगा था और समय के साथ साथ अब सब कुछ ठीक होने लगा था। एक दिन मेरी दीदी ने मुझे अपने घर पर आने के लिए कहा दीदी घर पर अकेले ही थी क्योंकि जीजा जी अपने काम के सिलसिले में कहीं बाहर गए हुए थे इसलिए उन्होंने मुझे घर पर बुलाया था। जब मैं दीदी से मिला तो मुझे काफी ज्यादा अच्छा लगा और दीदी भी बहुत ज्यादा खुश थी। मैं काफी लंबे समय के बाद दीदी से मिलने के लिए गया था और दीदी से मिलकर मुझे बहुत ही अच्छा लगा काफी लंबे अरसे बाद हम लोग एक दूसरे को मिल रहे थे। दीदी ने मुझसे पूछा कि राजेश तुम्हारी नौकरी कैसी चल रही है तो मैंने दीदी को बताया कि मेरी जॉब तो ठीक चल रही है। दीदी ने मुझे बताया कि उनकी फैमिली में आज एक फंक्शन है। मैंने दीदी को कहा कि दीदी आप चले जाइए लेकिन दीदी ने मुझे भी अपने साथ चलने के लिए कहा और मैं भी उस दिन दीदी के साथ उस फंक्शन में चला गया। मैं जब वहां पर गया तो वहां पर दीदी ने मुझे अपनी सहेली से मिलवाया उसी पार्टी के दौरान जब मेरी मुलाकात पायल के साथ हुई तो मुझे पायल से मिलकर बहुत ही अच्छा लगा।

पायल को भी मुझसे मिलकर बहुत ही अच्छा लगा था उसके बाद हम दोनों एक दूसरे से मिलने लगे थे और हम दोनों एक दूसरे से बातें भी करने लगे थे। समय के साथ साथ हम दोनों एक दूसरे से कुछ ज्यादा ही मुलाकात करने लगे थे और अब हम दोनों के बीच प्यार भी बढ़ने लगा था जिस वजह से मैं और पायल एक दूसरे के साथ समय बताया करते थे। जब भी हम दोनों एक दूसरे के साथ होते तो हम दोनों को बड़ा ही अच्छा लगता था हम दोनों एक दूसरे के साथ रिलेशन में बहुत ही ज्यादा खुश हैं। जिस तरीके से मैं और पायल एक दूसरे के साथ रिलेशन में है उससे हम दोनों को ही अच्छा लगता है और हम दोनों बहुत खुश हैं। पायल और मेरे बीच प्यार बढ़ता ही जा रहा था और अब यह बात मेरी दीदी को भी मालूम चल चुकी थी। दीदी ने जब इस बारे में घर पर बात की तो पापा और मम्मी भी चाहते थे कि मैं उन्हें भी पायल से मिलवाऊं। मैंने जब पायल को अपने घर वालों से मिलवाया तो वह लोग भी पायल से मिलकर बड़े खुश थे और जब वह लोग पायल से मिले तो उन लोगों को बड़ा ही अच्छा लगा।

पायल और मेरा मिलना तो अक्सर होता ही रहता था लेकिन अब हम लोग चाहते थे कि हम दोनों शादी कर ले पायल की फैमिली को भी इस बात से कोई एतराज नहीं था। पायल भी एक मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब करती है और वह चाहती थी कि हम लोग शादी कर ले। मैंने पायल को कहा कि ठीक है हम लोग शादी कर लेंगे और जल्द ही हम लोगों ने अब शादी करने का फैसला कर लिया था। पहले हम दोनों की सगाई हुई और जब हम दोनों की सगाई हो गई तो उसके बाद हम दोनों जल्द ही शादी करना चाहते थे। मैं भी चाहता था कि मैं शादी कर लूं मैंने भी पूरी तरीके से मन बना लिया था कि मैं पायल से शादी कर लूंगा। मैंने पायल से शादी करने का फैसला कर लिया था।

जब पायल और मेरी शादी हुई तो हम दोनों बड़े खुश थे हम दोनों की शादी बड़े ही धूमधाम से हुई। हम दोनों की शादी हो जाने के बाद हम दोनों एक दूसरे को ज्यादा से ज्यादा समय देने की कोशिश किया करते। मैं इस बात से बड़ा ही खुश था जिस तरीके से पायल और मैं एक दूसरे के साथ समय बिताया करते थे। जब भी हम दोनों एक दूसरे के साथ में होते तो हम दोनों को बहुत ही अच्छा लगता था। हमारी शादी को 6 महीने हो चुके थे और 6 महीने बीत जाने के बाद हम लोगों को पता ही नहीं चला कि कब हमारी शादी को इतना समय हो गया लेकिन पायल और मैं एक दूसरे को बहुत ही अच्छे से समझते हैं हम दोनों की शादीशुदा जिंदगी बहुत ही अच्छे से चल रही है। मैं बहुत खुश हूं जिस तरीके से पायल और मैं एक दूसरे के साथ समय बिता पाते हैं और हम दोनों एक दूसरे को हमेशा ही खुश रखने की कोशिश किया करते हैं।

पायल और मेरे बीच अक्सर सेक्स संबध बनते ही रहते थे। मैं बहुत ही ज्यादा खुश रहता जब भी हम दोनो सेक्स किया करते थे। एक रात हम दोनो लेटे हुए थे मैं पायल के बदन को महसूस कर रहा था वह भी बहुत ज्यादा खुश हो रही थी। पायल मेरी गर्मी को बढ़ती जा रही थी वह बहुत गर्म हो गई थी वह बिल्कुल भी रह नहीं पा रही थी। मैं पायल के स्तनो को दबाए जा रहा था पायल और मेरी गर्मी बहुत ज्यादा बढ़ने लगी थी। हम दोनों पूरी तरीके से गर्म हो चुके थे। मैंने अपने लंड को बाहर निकाला और पायल ने जब मेरे लंड को अपने हाथ में ले लिया तो मुझे मजा आ रहा था। वह मेरे लंड को हिलाने लगी थी मुझे बहुत अच्छा लग रहा था और पायल को भी बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था। पायल ने मेरी गर्मी को बढा दिया था। हम दोनों बहुत ज्यादा गरम हो गए थे। पायल ने मेरे लंड से पानी निकाल दिया था, अब मेरी गर्मी इस कदर बढ़ चुकी थी मैं बिल्कुल भी रह नहीं पा रहा था। पायल ने मेरे लंड को अपने मुंह मे लिया।

पायल अपने मुंह के अंदर तक लंड को ले रही थी वह बहुत अच्छे से मेरे लंड को सकिंग करने लगी थी। वह मेरे लंड को अच्छे से चूसने लगी थी उसको मजा आने लगा था और मुझे भी बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था जिस तरीके से मै और पायल एक दूसरे की गर्मी को बढ़ा रहे थे। मेरे लंड से निकलते पानी को वह अपने मुंह मे ले रही थी और उसे मजा आ रहा था। हम दोनों ने एक दूसरे को बहुत ज्यादा गरम कर दिया था अब मैं अपने आपको बिल्कुल भी रोक नहीं पा रहा था। मैंने पायल से कहा मेरी गर्मी को तुमने बढा कर रख दिया है। पायल मुझे कहने लगी मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा है वह बहुत ज्यादा खुश हो चुकी थी। मैंने पायल की पैंटी को उतारा और जब मैंने अपनी उंगली का स्पर्श पायल की चूत पर किया तो मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आने लगा था और पायल को भी मजा आ रहा था। मैं जिस तरीके से पायल की चूत की गर्मी को बढा रहा था उस से हम दोनों बहुत ज्यादा गरम होते जा रहे थे। पायल की चूत से निकलते पानी को देख मैंने जब अपने लंड को पायल की चूत पर लगाया तो उसकी योनि से बहुत ज्यादा पानी निकल रहा था। मेरे अंदर की गर्मी बहुत बढ चुकी थी पायल की गर्मी बहुत ज्यादा बढ रही थी। मैंने एक झटके के साथ अपने लंड को पायल की चूत मे प्रवेश करवा दिया था।

जब मेरा लंड पायल की चूत में प्रवेश हुआ तो वह जोर से चिल्लाकर बोली मुझे मजा आ रहा था। मुझे भी मजा आने लगा था वह मुझे कहने लगी मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा है तुम मुझे तेजी से चोदो। पायल को बहुत ही अच्छा लगने लगा था और मुझे भी बड़ा अच्छा लग रहा था जिस तरीके से हम दोनों एक दूसरे की गर्मी को बढ़ा रहे थे और हम दोनो ने एक दूसरे की गर्मी को बहुत ज्यादा बढ़ा कर रख दिया था। पायल की चूत से पानी निकल रहा था मेरा लंड उसकी चूत मे सेट हो चुका था। मेरा लंड पायल की चूत के अंदर बाहर हो रहा था पायल की गर्मी बढ़ती ही जा रही थी। मेरी गर्मी भी अब बहुत ज्यादा बढने लगी थी।

हम दोनो एक दूसरे का साथ अच्छे से दे रहे थे पायल मुझे अपने पैरो के बीच मे जकड रही थी। मेरा लंड पायल की चूत के अंदर बाहर हो रहा था पर मुझे अब लग चुका था मेरा माल गिरने वाला है। हम दोनों की गर्मी बहुत बढ गई थी। मेरा माल पायल की कोमल चूत मे गिरने को था मैंने पायल की चूत में अपने माल को गिराकर अपनी इच्छा को पूरा कर दिया था। मैं बहुत ज्यादा खुश था जिस तरीके से मैंने पायल के साथ में सेक्स संबंध बनाया था और वह भी बहुत खुश थी। पायल को चोदने मे एक अलग ही मजा आता है। हम दोनो एक दूसरे के साथ हमेशा सेक्स के लिए तडपते रहते है और मुझे बडा मजा आता है जब भी मै उसे चोदा करता हूं।


error: