रेत की ठंडक मे गरम बदन

Antarvasna, hindi sex stories: मुझे मेरे भैया का फोन आता है और वह कहते हैं कि शोभित तुम कुछ दिनों के लिए मेरे पास मुंबई आ जाओ मैंने भैया से कहा लेकिन भैया मेरे तो एग्जाम चल रहे हैं जैसे ही मेरे एग्जाम खत्म होंगे तो मैं आपके पास आ जाऊंगा। भैया मुंबई में रहते…


शादीशुदा जिंदगी को खुशनुमा कर दिया

Antarvasna, kamukta: भैया की शादी की पूरी तैयारियां चल रही थी और अब हमारे घर में मेहमान भी आने लगे थे पापा कहने लगे कि बेटा किसी को भी कोई कमी नहीं होने चाहिए यह हमारे घर की पहली शादी है। मैंने पापा से कहा आप बिल्कुल भी चिंता ना करें मैं सब कुछ संभाल…


पति की आंखो में धूल झोंककर चुदाई

Antarvasna, hindi sex kahani: ऑफिस जाते वक्त मेरी सासू मां का मुझे फोन आया और वह मुझसे कहने लगी कि संगीता कल रात को मैंने तुम्हें फोन किया था लेकिन तुमने फोन नहीं उठाया सब ठीक तो है ना। मैंने अपनी सासू मां से कहा हां मां जी सब कुछ ठीक है वह कहने लगे…


जल्दी करो कोई आ ना जाए

Antarvasna, hindi sex stories: सुरभि ने मुझे कहा आदित्य तुम बच्चों को तैयार कर दोगे मैं बच्चों के लिए नाश्ता बना रही हूं मैने सुरभि को कहा हां सुरभि मैं अभी बच्चों को तैयार कर देता हूं। मैंने बच्चों को तैयार किया और सुरभि नाश्ता तैयार कर चुकी थी बच्चे कहने लगे कि मम्मी जल्दी…


गांड से निकलते वीर्य को साफ कर दो

Antarvasna, hindi sex stories: मैंने मोहन और उसके सहकर्मी को रंगे हाथों पकड़ लिया था मेरे दिमाग में अब सिर्फ यही चल रहा था कि क्या मोहन मेरे साथ अपनी जिंदगी को बिता पाएंगे या नहीं मैं इसी कशमकश में थी और कई दिनों तक मोहन और मेरे बीच बात नहीं हुई। इसी बीच मेरे…


दिल की बात समझे आशिक

Antarvasna, kamukta: कुछ समय पहले ही तो मेरी बहन की शादी हुई थी और सब लोग बहुत खुश थे लेकिन अचानक से उसकी मृत्यु के बाद सब कुछ बदल चुका था। मेरे जीवन में भी अब पूरी तरीके से बदलाव आ चुका था मेरे माता-पिता चाहते थे कि मैं अपनी बहन के परिवार को संभाल…


नौकरानी बनी चूत की रानी

Antarvasna, hindi sex story: महिमा और मेरी मुलाकात एक शादी के दौरान हुई और हम दोनों कि जब नजदीकियां बढ़ने लगी तो हम दोनों ने एक दूसरे से अपने दिल की बात कह दी। जब मैंने महिमा से अपने दिल की बात कही तो महिमा ने भी मेरे दिल की बात को स्वीकार कर लिया…


मेरी चूत मारने घर पर आ जाना

Antarvasna, kamukta: मेरे गुस्सैल स्वभाव के वजह से मैं ज्यादा दिन तक कहीं पर भी नौकरी नहीं कर पाता था। कुछ दिनों पहले ही मैंने एक कंपनी ज्वाइन की थी लेकिन वहां से भी मुझे नौकरी छोड़नी पड़ी मेरे पापा और मम्मी इस बात से हमेशा ही परेशान रहते। हम लोग एक मध्यमवर्गीय परिवार के…


मुझे चोदा दम लगाकर

Antarvasna, desi kahani: प्रकाश ऑफिस से थके हुए आते हैं मैं उन्हें पानी देती हूं तो वह मुझे कहते हैं कि मोहनी बच्चे नजर नहीं आ रहे हैं मैंने प्रकाश को कहा बच्चे तो खेलने के लिए गए हुए हैं। प्रकाश उस दिन बहुत ज्यादा चिंतित थे और वह मुझसे कुछ कहना चाहते थे मैंने…


Page 1 of 119
1 2 3 119

error: